Today Healthtips ! Today Lifestyles ! Today news ! Health foods ! Healthy diet ! Health news !healthcare ! In Hindi.

प्रेग्नेंसी के वो नौ महीने हर मां के लिए खास होते हैं। चाहे वह पहला बच्चा हो या दूसरा। एक मां के लिए उसके दोनों बच्चे एक जैसे होते हैं। और दोनों के जन्म का अनुभव भी अलग है। ऐसे में मां को कुछ ख्याल रखने की जरूरत होती है।

गर्भावस्था के दौरान हर महिला की जिंदगी बदल जाती है। फिर चाहे वो उनकी लाइफस्टाइल हो या फिर डाइट प्लान। दूसरी बार मां बनने पर एक महिला को अपना खास ख्याल रखने की जरूरत होती है। आइए देखें कि इसमें क्या शामिल है। (फोटो साभार- टाइम्स ऑफ इंडिया)

प्रेग्नेंट होने से पहले करें ये काम

  • गर्भावस्था के लिए महिला का सही वजन होना भी जरूरी है। यदि आपका वजन कम है, तो अपने बीएमआई को बढ़ाने के सुरक्षित तरीकों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें और उनका गंभीरता से पालन करें।
  • गर्भावस्था से पहले, स्त्री रोग विशेषज्ञ से मिलें और उनके साथ अपने चिकित्सा इतिहास पर चर्चा करें। अगर आपको कोई शारीरिक समस्या है तो बेझिझक अपने डॉक्टर से बात करें।
  • गर्भवती होने से पहले अत्यधिक सावधानी के साथ एचआईवी, हेपेटाइटिस बी, सिफलिस आदि की जांच कराएं। ताकि किसी भी समस्या का इलाज समय पर हो सके और बच्चा संक्रमित न हो।

(पढ़ें- बच्चों की आंखों की समस्या: बच्चों की आंखों में जलन, आंखों के खराब होने के लक्षणों को न करें नजरअंदाज

शरीर में दिखाई देते हैं ये बदलाव

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं का वजन बढ़ना बहुत आम बात है। लेकिन अगर दूसरी बार गर्भवती होने पर वजन तेजी से बढ़ रहा है, तो देखभाल की जरूरत है। क्योंकि पहली डिलीवरी के बाद शरीर में कई तरह के बदलाव होते हैं इसलिए दूसरी गर्भावस्था में शरीर एक नए बदलाव के लिए तैयार होता है।

(पढ़ें- क्या आपका बच्चा भी स्कूल जाने से मना करता है? माता-पिता ऐसा करें, बच्चे का डर होगा दूर)

ऐंठन और खोलना अनुभव

महिलाओं को अपनी दूसरी गर्भावस्था के दौरान बहुत अधिक ऐंठन और स्पॉटिंग का अनुभव होता है। आप इसे गर्भधारण के 6 से 12 दिनों के बाद अनुभव कर सकती हैं। निषेचन तभी होता है जब भ्रूण गर्भाशय की दीवार से जुड़ा होता है। इसलिए दूसरी प्रेग्नेंसी में खास ख्याल रखने की जरूरत होती है।

(पढ़ें- Kids Health Tips : पेट के कीड़ों से परेशान हैं बच्चे? इन 6 फूड्स को अपनी डाइट में करें शामिल, जड़ से खत्म हो जाएंगे)

दोनों गर्भधारण का अनुभव अलग है

पहली गर्भावस्था की तुलना में एक महिला को अधिक थकान महसूस हो सकती है। यह शरीर में प्रोजेस्टेरोन के स्तर में वृद्धि के कारण होता है। गर्भावस्था के एक महीने के बाद प्रोजेस्टेरोन असर करता है, इसलिए इस समय गर्भावस्था के एक सप्ताह के बाद आपको थकान महसूस हो सकती है।

(पढ़ें- फूड फॉर स्पर्म काउंट : कम स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए 5 फूड्स ज्यादा फायदेमंद)

इसका खास ख्याल रखें

अगर आप दूसरी बार गर्भवती होने की सोच रही हैं, तो यह जानना भी जरूरी है कि आपको अपने पहले बच्चे के बाद कब तक गर्भधारण करने की कोशिश करनी चाहिए। ताकि बच्चा स्वस्थ और मजबूत पैदा हो। दूसरी बार माँ, पहली गर्भावस्था के बाद 18 से 23 महीने का समय लें ताकि आपका शरीर पहली डिलीवरी से ठीक हो सके। यदि आप अपनी पहली और दूसरी गर्भावस्था के बीच 18-23 महीने का अंतर छोड़ती हैं, तो आपके पास अपनी खोई हुई ऊर्जा को वापस पाने का समय होगा।

(पढ़ें- सिंगल चिल्ड्रन : सिंगल चिल्ड्रन को लेकर 5 गलतफहमियां, क्या आपके भी हैं सिंगल चिल्ड्रन?)

.

<a href

My blog website- https://filmfare91.com/ https://dktechhind.in/ https://dktechhindi.xyz/ Best ad network site- https://propellerads.com/publishers/?ref_id=eGii My youtube channel- https://youtube.com/c/dktechlearn Best electronic devices- https://amzn.to/3592Puc https://amzn.to/3uuerR4 https://www.digistore24.com/redir/321021/dktechhind/ https://www.digistore24.com/redir/325658/dktechhind/ https://www.digistore24.com/redir/365899/dktechhind/ https://www.digistore24.com/redir/382325/dktechhind/ Best crypto trading app- Hey, get FREE BITCOIN worth Rs. 50 on downloading the CoinSwitch Kuber app using my referral link. Join me and 1.4 crore traders who are trading in 100s of crypto. Hurry, use my link: https://coinswitch.co/in/refer?tag=bG9Ps

Today Healthtips ! Today Lifestyles ! Today news ! Health foods ! Healthy diet ! Health news !healthcare ! In Hindi.

आज की लाइफस्टाइल में लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। तनाव, डिप्रेशन के अलावा अब लोगों में स्पर्म काउंट कम होने की शिकायतें ज्यादा देखने को मिल रही हैं। खासकर पुरुषों में। ऐसा कहा जाता है कि पुरुष शरीर प्रति सेकंड 1,500 शुक्राणु पैदा करता है। कम शुक्राणुओं की संख्या भी प्रजनन क्षमता को प्रभावित करती है।

क्या आप जानते हैं कि आप जो खाते हैं उसका असर आपके स्पर्म काउंट पर पड़ता है। आप जितना अच्छा खाएंगे, आपके स्पर्म काउंट उतने ही बेहतर होंगे। कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जो स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए जिम्मेदार होते हैं (How to बढ़ाएं Sperm Count). जानिए उन खाद्य पदार्थों के बारे में जो स्पर्म काउंट बढ़ाते हैं और सेक्स लाइफ को बेहतर बनाते हैं। (फोटो साभार- टाइम्स ऑफ इंडिया)

सीप

सीप शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाता है, क्योंकि उनमें जिंक होता है। यह शुक्राणु उत्पादन को बढ़ाने में मदद करता है। आप रोजाना 50 ग्राम सीप खा सकते हैं (ऐसे खाद्य पदार्थ जो शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाते हैं)

(पढ़ें- सिंगल चिल्ड्रन : सिंगल चिल्ड्रन को लेकर 5 गलतफहमियां, क्या आपके भी हैं सिंगल चिल्ड्रन?))

अंडे

इसमें सबसे ज्यादा प्रोटीन होता है। इसमें विटामिन ई भी होता है। ये दोनों चीजें स्वस्थ शुक्राणु के उत्पादन में मदद करती हैं। शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने के अलावा, यह प्रजनन क्षमता को कम करने वाले मुक्त कणों से लड़ने में भी मदद करता है।

(पढ़ें- प्रेग्नेंसी में न करें 4 चीजें, प्रीमैच्योर डिलीवरी के साथ-साथ बच्चे के लिए ज्यादा खतरा)

डार्क चॉकलेट

अमीनो एसिड से भरपूर, डार्क चॉकलेट तेजी से शुक्राणुओं की संख्या को दोगुना करती है और वीर्य को गाढ़ा करती है। डार्क चॉकलेट एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है, जो पुरुष प्रजनन क्षमता को प्रभावित करने वाले फ्री रेडिकल्स को खत्म करने में मदद करती है। दिन में सिर्फ एक टुकड़ा डार्क चॉकलेट खाने से आपके स्पर्म काउंट में वृद्धि हो सकती है।

(पढ़ें- बच्चों के दांतों के लिए सबसे खराब खाना : बच्चों के दांतों के लिए हानिकारक हैं ये 5 फूड्स, खाने को पूरी तरह से मारें))

लहसुन

इसमें एलिसिन, दो पदार्थ होते हैं जो पुरुष यौन अंगों में रक्त के प्रवाह को बढ़ाते हैं और शुक्राणु को नुकसान से बचाते हैं। दूसरा, सेलेनियम एक एंटीऑक्सीडेंट है, जो शुक्राणु की गतिशीलता को बढ़ाता है।

(पढ़ें- महिलाओं के शरीर में आयरन की कमी को दूर करती है किशमिश; गर्भावस्था के दौरान 5 फायदे))

केला

केला यौन स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है। इसमें ब्रोमेलैन नामक एंजाइम होता है, जो पुरुष कामेच्छा बढ़ाने और सेक्स हार्मोन को नियंत्रित करने में मदद करता है। इसके अलावा यह विटामिन सी, ए और बी1 से भरपूर होता है, जो पुरुष शरीर की शुक्राणु पैदा करने की क्षमता को बढ़ाता है।

(पढ़ें-लड़की को बनाएं ‘आत्मनिर्भर’ तो सिखाएं 5 बातें, जिंदगी में कभी न पीछे रहें)

.

<a href

Today Healthtips ! Today Lifestyles ! Today news ! Health foods ! Healthy diet ! Health news !healthcare ! In Hindi.

गर्भावस्था एक महिला के जीवन का एक बहुत ही अलग चरण होता है, जिसका शरीर पर शारीरिक और मनोवैज्ञानिक प्रभाव पड़ता है। इस दौरान खान-पान, रहन-सहन, व्यायाम और भावनात्मक स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होगा। ऐसे में अगर सिर्फ डाइट की बात करें तो डाइट में कुछ चीजों को शामिल करने से प्रेग्नेंसी के दौरान हेल्दी रहने में मदद मिलती है।

जैसे अंगूर खाना। जी हां, गर्भावस्था के दौरान मुनक्का खाना शरीर के लिए कई तरह से फायदेमंद होता है। दरअसल, सूखे अंगूरों में आयरन, विटामिन बी और मिनरल्स होते हैं। इसके साथ ही इसमें पानी सोखने का खास गुण होता है जो पाचन में मदद करता है। इसके अलावा गर्भावस्था के दौरान सूखे अंगूर खाने के कई फायदे होते हैं। हमें विवरण दें। (फोटो साभार- टाइम्स ऑफ इंडिया)

कब्ज में फायदेमंद

गर्भावस्था के दौरान पाचन तंत्र महिलाओं के स्वास्थ्य को प्रभावित करता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि गर्भावस्था बढ़ने के साथ-साथ पाचन तंत्र प्रभावित होता है और हार्मोनल स्वास्थ्य में बदलाव होते हैं। ऐसे में किशमिश के सेवन से शरीर की कई समस्याएं दूर हो जाती हैं। किशमिश फाइबर से भरपूर होती है जो पानी को सोख लेती है और मल को नरम कर देती है। इससे मल त्याग में आसानी होती है और कब्ज की समस्या से राहत मिलती है। इसलिए गर्भावस्था के दौरान कब्ज से बचने के लिए महिलाओं को किशमिश का सेवन करना चाहिए।

(पढ़ें- लड़की को ‘आत्मनिर्भर’ बनाने के लिए 5 चीजें तो जरूर सिखाएं, जिंदगी में कभी पीछे नहीं हटें

आर्यन के पास बहुत कुछ है

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को आयरन की अलग से गोलियां दी जाती हैं। ऐसे में सूखे अंगूर खाने से आयरन की कमी पूरी हो सकती है। दरअसल, आयरन से भरपूर सूखे अंगूर लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ावा देते हैं और शरीर में रक्त की मात्रा बढ़ाते हैं। महिलाएं चाहें तो इन्हें स्नैक्स या सूखे अंगूर के रूप में भी खा सकती हैं।

(पढ़ें- बच्चों के अजीब व्यवहार के लिए जिम्मेदार हैं माता-पिता, आपकी ‘ये’ गलतियां हैं वजह)

हड्डियों को मजबूत करता है

किशमिश का सेवन हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। किशमिश में भरपूर मात्रा में कैल्शियम होता है, जो हड्डियों को मजबूत बनाता है। इस दौरान भ्रूण का वजन बढ़ने से महिलाओं की हड्डियां प्रभावित होने लगती हैं। इसे खाने से हड्डियाँ इस स्तर तक मजबूत होती हैं कि महिलाओं की हड्डियाँ शरीर के बढ़े हुए वजन को संभाल सकती हैं।

(पढ़ें- सुधा मूर्ति: माता-पिता को सुधा मूर्ति की चेतावनी, ‘ये’ अजीब पालन-पोषण की आदतें हैं खतरनाक

शरीर में ऊर्जा बढ़ती है

किशमिश में ग्लूकोज और फ्रुक्टोज की अच्छी मात्रा होती है जो भोजन से आवश्यक विटामिन के अवशोषण में मदद करते हैं। यह आपके शरीर में अतिरिक्त ऊर्जा लाने में मदद करता है। चूंकि गर्भावस्था के दौरान शरीर कई बदलावों से गुजरता है, इसलिए बच्चे और मां की जरूरतों को पूरा करने के लिए अतिरिक्त ऊर्जा की आवश्यकता होती है। इसके अलावा किशमिश शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है और गर्भावस्था के दौरान होने वाले बदलावों को सहन करने में शरीर की मदद करती है।

(पढ़ें- माता-पिता, आपकी ‘ये’ गंभीर गलतियां बच्चों को बना रही हैं मानसिक रूप से बीमार, समय रहते सुधार लें वरना..!)

गर्भावस्था के दौरान डोर हेल्थ अच्छी रहती है

गर्भावस्था के दौरान उचित मौखिक स्वास्थ्य बनाए रखना बहुत महत्वपूर्ण है। क्योंकि इस दौरान शरीर की प्रतिरोधक क्षमता इतनी कमजोर हो जाती है कि दांत तेजी से खराब होते हैं और मसूड़ों से खून आने की समस्या बढ़ती रहती है। सूखे अंगूरों में ओलीनोलिक एसिड होता है जो दांतों को सड़न और कैविटी से बचाता है। यह मुंह से संबंधित अन्य समस्याओं और सांसों की दुर्गंध पैदा करने वाले बैक्टीरिया को भी दूर रखता है।

(पढ़ें- अपने बच्चों के साथ ऐसा व्यवहार करने वाले मां-बाप न सिर्फ खुद की बल्कि अपने बच्चों की जिंदगी भी बर्बाद करते हैं, गलती से भी ऐसे न बनें

.

<a href

Today Healthtips ! Today Lifestyles ! Today news ! Health foods ! Healthy diet ! Health news !healthcare ! In Hindi.

मलाइका अरोड़ा अपने फिटनेस वीडियो और फैशन को लेकर हमेशा चर्चा में रहती हैं। हाल ही में उन्होंने अपने फिक्शनल बॉयफ्रेंड अर्जुन कपूर के साथ एक ग्लैमरस फोटोशूट करवाया। इस फोटो में दोनों बेहद खूबसूरत लग रही हैं.नेटिजन्स ने इस फोटो पर कमेंट्स की बौछार कर दी है.

दोनों ने इस लुक को मुंबई में आयोजित एक अवॉर्ड शो के लिए कैरी किया था। इस फोटो में लाइट ब्लू कलर का मैचिंग आउटफिट पहना हुआ था। इस खूबसूरत आउटफिट के कारण सभी की निगाहें उन पर टिकी थीं।
(फोटो साभार: @malaikaaroraofficial, @meghnabutanihairandmak)

अर्जुन और मलाइका का अंदाज

अर्जुन और मलाइका सालों से डेट कर रहे हैं। हाल ही में अर्जुन कपूर ने मलाइका के साथ पेरिस में अपना बर्थडे सेलिब्रेट किया। पेरिस से लौटने के एक हफ्ते बाद दोनों की मुलाकात एक अवॉर्ड शो में हुई थी. उस वक्त दोनों ने एक जैसे कपड़े पहने हुए थे, इसलिए सबकी निगाहें उसी पर टिकी थीं.

(पढ़ना:- दिशा पटानी : दिशा पटानी का बोल्ड लुक, फोटो देखकर फैंस ‘बार्बी डॉल’ को लेकर परेशान हैं.)

मलाइका की ड्रेस

मलाइका ने इस बार ब्लू कलर की ड्रेस पहनी हुई है। इस ट्रांसपेरेंट इनर के ऊपर शिमरी पैटन ब्रा पहनी जाती है। अर्जुन ने मलाइका के साथ ब्लू कलर का ब्रेजर पहना था।

(पढ़ना:- प्राजक्ता माली: ट्यूब ब्लाउज, नथ और काली साड़ी में प्राजक्ता माली का ग्लैमरस अवतार प्रशंसकों को लुभा रहा है)

मलाइका का मेकअप

इस बार मलाइका ने ब्राउन शेड में मेकअप किया है. इस बार उन्होंने ब्लू आईशैडो लगाया है और उन्होंने ब्राउन लिपस्टिक लगाई है.

(पढ़ना:- वाणी कपूर वाणी कपूर ने दिखाया अपना हॉट, बोल्ड लुक और फिदा इंटरनेट के फैंस भी हो गए उत्साहित!)

मलाइका का हेयर स्टाइल

इस बार मलाइका ने लहराते बालों को चुना है। यह हेयर स्टाइल उन पर बहुत अच्छा लग रहा है। आप भी इस लुक को कर सकती हैं।

(पढ़ना:- साड़ी में मलाइका अरोड़ा: साड़ी में 48 साल की मलाइका अरोड़ा का ग्लैमरस अवतार, फैन्स ने कहा ‘अप्सरा की तरह’)

अंगूठी ने खींचा लोगों का ध्यान

मलाइका ने भी इस बार ब्लू रिंग पहनी हुई है। तो उनके लुक को एक अलग ही लुक मिल गया है.

(पढ़ना:- मौनी रॉय की बोल्ड तस्वीरें: शादी के बाद पहली बार हुई मौनी रॉय की बोल्ड तस्वीरें, शेयर की बेडशीट टॉपलेस तस्वीरें)

.

<a href

Today Healthtips ! Today Lifestyles ! Today news ! Health foods ! Healthy diet ! Health news !healthcare ! In Hindi.

शरीर को स्वस्थ रहने और अच्छी तरह से काम करने के लिए सभी पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। अक्सर देखा गया है कि लोग आमतौर पर केवल प्रोटीन, कैल्शियम और आयरन जैसे पोषक तत्वों की बात करते हैं। हम आपको बताएंगे कि शरीर के सभी अंगों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए जिंक महत्वपूर्ण है। जिंक की कमी तब होती है जब शरीर में मिनरल की पर्याप्त मात्रा नहीं होती है। गर्भावस्था, बचपन और किशोरावस्था के दौरान प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने, घाव भरने और शरीर के विकास के लिए जिंक एक आवश्यक पोषक तत्व है। जिंक की कमी के लक्षण? जिंक की कमी के लक्षण त्वचा में गंभीर बदलाव ला सकते हैं। सबसे पहले वे एक्जिमा की तरह दिखते हैं।

समस्या यह है कि यह दाने आसानी से ठीक नहीं होते हैं। इसके अलावा, बालों का झड़ना, नाखून में बदलाव, दस्त, संक्रमण, चिड़चिड़ापन, भूख न लगना, नपुंसकता, आंखों की समस्या, वजन कम होना, घाव जो जल्दी ठीक नहीं होते हैं, या स्वाद और गंध की हानि का भी अनुभव हो सकता है। हेल्थ डायरेक्ट की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अगर समय रहते जिंक की कमी का इलाज नहीं किया गया तो आपको कई गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। गंभीर लक्षणों में संक्रमण, हाइपोगोनाडिज्म, वजन कम होना, तनाव-चिंता, जिल्द की सूजन, स्वाद की कमी, रतौंधी, भूख न लगना, घाव भरने में देरी और रक्त में अमोनिया के स्तर में वृद्धि शामिल हैं। आइए जानें कि इस आवश्यक पोषक तत्व की कमी को पूरा करने के लिए आपको क्या खाना चाहिए।

शरीर को प्रतिदिन कितने जिंक की आवश्यकता होती है?

पोषण डेटा के अनुसारपुरुषों को प्रति दिन 11 मिलीग्राम जिंक की जरूरत होती है, जबकि महिलाओं को 8 मिलीग्राम जिंक की जरूरत होती है। यदि आप गर्भवती हैं, तो आपको प्रति दिन 11 मिलीग्राम की आवश्यकता होती है, और यदि आप स्तनपान कराती हैं, तो आपको 12 मिलीग्राम की आवश्यकता होती है।

(पढ़ना:- रोजाना सिर्फ 5000 कदम और ब्लड शुगर डाउन, आयुर्वेदिक डॉक्टरों के ये 7 नुस्खे मधुमेह के मरीजों के लिए वरदान)

मांस एक अच्छा स्रोत है

रेड मीट जिंक का अच्छा स्रोत है। 100 ग्राम (3.5-औंस) मांस में 4.8 मिलीग्राम जस्ता होता है, जो दैनिक आवश्यकता का 44% है। इस मीट में 176 कैलोरी, 20 ग्राम प्रोटीन और 10 ग्राम फैट होता है।

(पढ़ना:- सूखी खांसी ठीक करने के 6 घरेलू उपाय, आज ही आजमाएं..!)

जिंक की कमी को दूर करने के लिए खाएं फलियां

छोले, दाल और बीन्स जैसे फलियां जिंक के समृद्ध स्रोत हैं। 100 ग्राम पकी हुई दाल में जिंक की दैनिक आवश्यकता का 12% होता है। ये चीजें प्रोटीन और फाइबर का भी अच्छा स्रोत हैं।

(पढ़ना:- ये 5 प्राकृतिक चीजें खून के थक्कों से होने वाली मौत को रोकती हैं, खून को पतला करके हार्ट अटैक और स्ट्रोक से बचाती हैं)

डेयरी उत्पाद जिंक के मजबूत स्रोत हैं

पनीर और दूध जैसे डेयरी उत्पाद जिंक सहित कई पोषक तत्व प्रदान करते हैं। दूध और पनीर में जिंक की मात्रा अधिक होती है। उदाहरण के लिए, 100 ग्राम पनीर में जिंक की दैनिक आवश्यकता का 28% होता है, जबकि एक कप दूध में लगभग 9% होता है।

(पढ़ना:- अपच और कब्ज को दूर कर आंतों के हर हिस्से को साफ करते हैं ये 5 फूड्स)

जिंक की कमी को कैसे दूर करें – अंडे खाएं

अंडे में मध्यम मात्रा में जिंक होता है और यह आपके दैनिक लक्ष्य को पूरा करने में आपकी मदद करता है। उदाहरण के लिए, 1 बड़े अंडे को 5% जस्ता की आवश्यकता होती है। यह 77 कैलोरी, 6 ग्राम प्रोटीन, 5 ग्राम स्वस्थ वसा, और कई अन्य विटामिन और खनिज प्रदान करता है, जिसमें बी विटामिन और सेलेनियम शामिल हैं।

(पढ़ना:- 21 देशों में किए गए एक अध्ययन के अनुसार, भारत में ‘इन’ लोगों को दिल का दौरा और दिल की बीमारियों का सबसे ज्यादा खतरा है, ध्यान रखें!)

कुछ सब्जियां भी होती हैं फायदेमंद

सामान्य तौर पर, फल और सब्जियां जिंक के बहुत अच्छे स्रोत नहीं होते हैं। हालांकि, कुछ सब्जियों में पर्याप्त मात्रा में जिंक होता है और यह आपकी दैनिक जरूरतों में योगदान कर सकता है, खासकर यदि आप मांस नहीं खाते हैं। एक बड़े आलू में एक मिलीग्राम आपको अपनी दैनिक जस्ता जरूरतों का 9% प्रदान कर सकता है। आप हरी बीन्स से लगभग 3% प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा, आपको जिंक की कमी की भरपाई के लिए शेलफिश, कुछ प्रकार के बीज, नट्स, साबुत अनाज और डार्क चॉकलेट का सेवन करना चाहिए।

(पढ़ना:- वजन घटाने की कहानी: 68 किलो तक पहुंचा था वजन, ‘इस’ आसान तरकीब से महज 4 महीने में घटाया 18 किलो वजन, पानी पीकर ज्यादा से ज्यादा..!)

नोट: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या उपचार का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें

.

<a href

Today Healthtips ! Today Lifestyles ! Today news ! Health foods ! Healthy diet ! Health news !healthcare ! In Hindi.

कई बार रिश्तों में दरार भी आ जाती है। कई लोग इस बात से हैरान होते हैं कि रिश्ते को 100 प्रतिशत देने के बावजूद उनका पार्टनर ऐसा बर्ताव करता है जैसे उन्हें कोई दिलचस्पी ही नहीं है। वैवाहिक रिश्ते में पार्टनर को भावनात्मक रूप से जोड़ने की जरूरत होती है, लेकिन कई लोग भावनात्मक रूप से कनेक्ट नहीं हो पाते हैं, क्योंकि एक पार्टनर असंवेदनशील या अनमोटेड होता है।
वे आपकी शिकायतों को नजरअंदाज करते हैं। इससे आपके रिश्ते में दरार आ गई है। तो ये 5 चीजें आपके काम आएंगी। इससे आपके रिश्ते में जिस प्यार की कमी है उसे बढ़ाने में मदद मिलेगी। तो आइए जानते हैं क्या हैं ये।
(फोटो साभारः टाइम्स ऑफ इंडिया)

प्यार और सम्मान दिखाओ

यदि आपका साथी आपके प्रति असंवेदनशील है, तो आप इस साथी के व्यवहार को स्वीकार करते हैं लेकिन इसके बजाय आप अपने साथी को दिखाते हैं कि आप उनके लिए हैं और वे अपनी भावनाओं को आपके साथ साझा कर सकते हैं। जब आपका पार्टनर अपनी भावनाओं को आपसे छुपाता है तो रिश्ते में तनाव बढ़ जाता है। तो इस उपाय को आजमाएं।

(पढ़ना:- कौन सी लड़कियां सोचकर शादी करती हैं? अगर आपके मन में ये सवाल है तो इसे पढ़ें)

नियंत्रण बनाए रखें

कुछ लोगों की आदत होती है कि वे अपने पार्टनर को नजरअंदाज कर देते हैं। वे उनकी बात तभी सुनते हैं जब उन्हें किसी चीज की जरूरत होती है या बात करने के मूड में होते हैं। ऐसे समय में आपको नियंत्रण रखना होगा और अपने साथी को समझाना होगा.अपनी भावनाओं को खुलकर साझा करें और अपने साथी से कहें कि वह आपको नज़रअंदाज़ न करे.

(पढ़ना:- पति नाराज है? तो उसे इन 5 तरीकों से समझें, रिश्ते में नहीं आएगी कड़वाहट)

धैर्य जरूरी है

धैर्य जीवन में लगभग हर चीज की कुंजी है और यह आपके जीवन को आसान बना सकता है। आपके साथी को यह समझने में मदद करने के लिए बहुत धैर्य की आवश्यकता हो सकती है। आपको उन्हें समझाना होगा कि संवेदनशील और केयरिंग होना क्यों जरूरी है।

(पढ़ना:- रतन टाटा : अरबपति होने के बावजूद रतन टाटा कुंवारे क्यों रहे? कारण जानने से आपके सच्चे प्यार की परिभाषा भी स्पष्ट हो जाएगी)

अपने साथी को अस्वीकार न करें

यदि आपका साथी असंवेदनशील है और समस्या का समाधान नहीं करता है, तो उसे अस्वीकार न करें। उन्हें अपना समय दें इससे चीजें आसान हो जाएंगी।

(पढ़ना:- प्रेग्नेंट बहू आलिया भट्ट का सास नीतू कपूर पर लिखा ये पोस्ट वायरल, पढ़कर आपको लगेगा 440 वोल्ट का झटका..!)

.

<a href

Today Healthtips ! Today Lifestyles ! Today news ! Health foods ! Healthy diet ! Health news !healthcare ! In Hindi.

आईपीएल के संस्थापक ललित मोदी ने घोषणा की कि वह अभिनेत्री सुष्मिता सेन को डेट कर रहे हैं, सभी ने केवल सुष्मिता सेन को देखा। इसी बीच सुष्मिता ने अपने सोशल मीडिया पर ललित मोदी के साथ अपने ट्रिप की कुछ तस्वीरें अपलोड की हैं। इन तस्वीरों को देखकर फैंस का दिल धड़क गया।

वैसे तो सुष्मिता इन दिनों फिल्मों में कम ही नजर आती हैं, लेकिन उन्होंने हाल ही में एक वेब सीरीज से डेब्यू किया है. सुष्मिता सेन बॉलीवुड में एक ऐसा चेहरा हैं जिन्हें किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है। एक्ट्रेस बेशक लंबे समय से बॉलीवुड इंडस्ट्री से दूर हैं, लेकिन फिर भी उनकी पॉपुलैरिटी में कोई कमी नहीं है.

अपनी एक्टिंग से लोगों को दीवाना बनाने वाली एक्ट्रेस सुष्मिता सेन के आज भी लाखों फॉलोअर्स हैं. हाल ही में उन्होंने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर वेकेशन की तस्वीरें शेयर की हैं. ये फोटो इंटरनेट पर वायरल हो रही है. फोटोज में सुष्मिता का अंदाज देखकर आप भी हैरान रह जाएंगे.
(फोटो साभार:- टाइम्स ऑफ इंडिया)

सुष्मिता की जलवा मिनी ड्रेस

सुष्मिता सेन की अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम हैंडल पर शेयर की गई तस्वीरें एक्ट्रेस को देखने के लिए सभी के दिलों पर राज कर रही हैं.इस फोटो में सुष्मिता मिनी ड्रेस में नजर आ रही हैं. इस ड्रेस को एनिमल प्रिंट दिया गया है। इस ड्रेस को ब्लैक स्ट्राइप दिया गया है।

(पढ़ना:- साड़ी में मलाइका अरोड़ा: साड़ी में 48 साल की मलाइका अरोड़ा का ग्लैमरस अवतार, फैंस ने कहा ‘अप्सरा की तरह’)

सुष्मिता की जलवा मिनी ड्रेस

सुष्मिता सेन की अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम हैंडल पर शेयर की गई तस्वीरें एक्ट्रेस को देखने के लिए सभी के दिलों पर राज कर रही हैं.इस फोटो में सुष्मिता मिनी ड्रेस में नजर आ रही हैं. इस ड्रेस को एनिमल प्रिंट दिया गया है। इस ड्रेस को ब्लैक स्ट्राइप दिया गया है।

(पढ़ना:- वाणी कपूर वाणी कपूर ने दिखाया अपना हॉट, बोल्ड लुक और फिदा इंटरनेट के फैंस भी हो गए उत्साहित!)

सुष्मिता का चश्मा

इस खूबसूरत ड्रेस में सुष्मिता ने काला चश्मा पहना हुआ है। इसमें उनका लुक बेहद ग्लैमरस है. आप भी इस लुक को ट्राई कर सकती हैं।

(पढ़ना:- प्राजक्ता माली: ट्यूब ब्लाउज, नथ और काली साड़ी में प्राजक्ता माली का ग्लैमरस अवतार प्रशंसकों को लुभा रहा है)

सुनहरी पोशाक

इस फोटो में सुष्मिता ने गोल्डन कलर की ड्रेस पहनी हुई है. इसके साथ ही उन्होंने काला चश्मा पहना हुआ है। इस लुक में वह बेहद खूबसूरत लग रही हैं।

(पढ़ना:- दिशा पटानी : दिशा पटानी का बोल्ड लुक, फोटो देखकर फैंस ‘बार्बी डॉल’ को लेकर परेशान हैं.)

ब्लैक बिकनी

सुष्मिता ने अपना बोल्ड अवतार दिखाते हुए ब्लैक बिकिनी भी पहनी थी. इसमें वह बेहद खूबसूरत लग रही हैं। इस फोटो में वह एक स्विमिंग पूल के किनारे सो रही हैं। उनकी अदाकारी देख हर कोई उनका दीवाना हो रहा है.

(पढ़ना:- काली साड़ी में नीता अंबानी का ग्लैमरस अवतार, भांजी इशिता की शादी में बस ‘शाही दैट’ ने खींची सबकी निगाहें)

सुष्मिता की टोपी और मेकअप

इस फोटो में सुष्मिता ने बड़ी जंबो कैप पहनी हुई है. इसमें वह बेहद खूबसूरत लग रही हैं। इसके साथ ही सुष्मिता ने पिंक लिपस्टिक भी लगाई है.आप भी इस लुक को ट्राई कर सकती हैं.

(पढ़ना:- रेड वाइन कलर की ड्रेस में दिशा पटानी ने तोड़ी बोल्डनेस की सारी हदें, फोटो देखकर फैंस बोले ‘लाइक ए मरमेड’.)

.

<a href

Today Healthtips ! Today Lifestyles ! Today news ! Health foods ! Healthy diet ! Health news !healthcare ! In Hindi.

कब्ज के घरेलू उपचार: गलत खान-पान और गतिहीन जीवन शैली के कारण बहुत से लोग कब्ज से पीड़ित होते हैं। कई लोग इस गंभीर मामले को हल्के में लेते हैं। यदि अनुपचारित छोड़ दिया जाता है, तो इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं। इससे बवासीर और गंभीर मामलों में गुदा कैंसर का खतरा बढ़ सकता है। कब्ज तब होता है जब पेट साफ नहीं होता है, शौच नहीं करता है या शौच करने में कठिनाई होती है। विशेषज्ञों का कहना है कि कब्ज अक्सर खराब खान-पान, दिनचर्या में बदलाव या कम फाइबर के सेवन के कारण होता है।

यदि आपको तीन सप्ताह से अधिक समय तक गंभीर दर्द, मल में रक्त या कब्ज के लक्षण हैं, तो आपको सतर्क रहना चाहिए और डॉक्टर को दिखाना चाहिए। पुरस्कार विजेता पोषण विशेषज्ञ लवनीत बत्रा के अनुसार, पांच में से एक भारतीय कब्ज से पीड़ित है। इससे न सिर्फ दिन भर बेचैनी बढ़ती है बल्कि कई पुरानी बीमारियां भी हो जाती हैं। तो कब्ज का इलाज क्या है? कब्ज के लिए कई दवाएं हैं, लेकिन कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन बढ़ाकर आप इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

सुखा आलूबुखारा

सूखे खुबानी का सेवन कब्ज के लिए सबसे अच्छे और प्रभावी उपचारों में से एक है। इसमें सोर्बिटोल भी होता है जिसे आपका शरीर पचाता है। यह आंतों में पानी खींचकर, मल त्याग को बढ़ावा देकर कब्ज को दूर करने में मदद करता है।

(पढ़ना: – हृदय रोग: 21 देशों में किए गए एक अध्ययन के अनुसार, भारत में ‘इन’ लोगों को दिल का दौरा और हृदय रोग का सबसे ज्यादा खतरा है।)

सब्जी का रस

नाश्ते के बाद और दोपहर के भोजन से पहले या शाम को अपनी किसी भी पसंदीदा सब्जी का एक गिलास जूस पीना कब्ज के लिए वास्तव में अच्छा है। आप पालक+टमाटर+चुकंदर+नींबू का रस+अदरक मिलाकर ताजा जूस बना सकते हैं।

(पढ़ना:- वजन घटाने के लिए आयुर्वेद : हर महीने 1.5 किलो वजन घटाता है ‘ये’ 6 आयुर्वेदिक उपाय करते हैं ज्यादा से ज्यादा, जिम-डाइटिंग की जरूरत नहीं..!)

त्रिफला

त्रिफला एक अद्भुत जड़ी बूटी है। इसमें तीन महत्वपूर्ण औषधीय पौधे हैं जैसे अमलकी (अवला), हरीतकी (कठोर) और बिभीतकी (बहेड़ा)। ये सभी कब्ज को दूर करने में मदद करते हैं। रात को सोने से पहले आधा चम्मच त्रिफला एक कप गर्म दूध या गर्म पानी में मिलाकर पीने से कब्ज से राहत मिलती है।

(पढ़ना: – बहुत खूब ..! महज 40 रुपये में घुटने के दर्द से पूरी तरह ठीक हुए महेंद्र सिंह धोनी, होगा घुटने का दर्द)

जई

ओट्स एक ऐसा अनाज है जो बीटा-ग्लूकेन्स से भरपूर होता है। यह एक घुलनशील फाइबर है, जो पेट के कार्य को बढ़ावा देता है। यह आंत में अच्छे बैक्टीरिया को विकसित करने में भी मदद करता है, जो आंत के कार्य को बढ़ाने के साथ-साथ उनके स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद करता है।

(पढ़ना: – रात के खाने में सिर्फ ‘ये’ खाना खाकर घटाएं 15 किलो वजन, 5 महीने में बर्न करें सारा फैट, आजमाएं)

घी

घी में ब्यूटायरेट तत्व कब्ज के लिए अद्भुत काम करता है। घी की तैलीय बनावट चिपचिपे तेल की तरह काम करती है और मसूड़ों की कठोरता को कम करती है। आहार में घी को शामिल करने से नियमित और आसान मल त्याग में मदद मिलती है।

(पढ़ना:- पुरुष काल: सावधान! इन 5 गलतियों की वजह से पुरुषों को मिलता है महिलाओं की तरह पीरियड्स, क्या होते हैं पुरुष पीरियड्स?)

नोट: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या उपचार का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

कब्ज के घरेलू उपाय..!

.

<a href

Today Healthtips ! Today Lifestyles ! Today news ! Health foods ! Healthy diet ! Health news !healthcare ! In Hindi.

रिश्तों में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं, लेकिन कभी-कभी रिश्ते में गुस्सा गंभीर रूप ले लेता है और रिश्ते में दूरियां पैदा कर देता है। अगर आप ऐसी स्थिति से गुजर रहे हैं जहां आप अपने पार्टनर को मनाना चाहते हैं, लेकिन उसके तरीके नहीं समझ पा रहे हैं तो हम आपके लिए कुछ आसान टिप्स लेकर आए हैं।

सबसे पहले, आपको यह समझने की जरूरत है कि आपका जीवनसाथी परेशान क्यों है ताकि आप समाधान पर ध्यान केंद्रित कर सकें। आइए जानते हैं उन टिप्स के बारे में जो आपके रिश्ते में प्यार वापस ला सकते हैं।
(फोटो साभार- इंडिया ऑफ टाइम्स)

पार्टनर के साथ समय बिताने की कोशिश करें

अपने गुस्सैल साथी को दिलासा देने के लिए अपने साथी के साथ समय बिताने की कोशिश करें। अपने काम से ब्रेक लेना और वेकेशन पर जाना या पार्टनर के साथ लॉन्ग ड्राइव पर जाना भी एक अच्छा विकल्प है। उन्हें अपना प्यार दिखाओ। इससे आपके प्रति गुस्सा कम होगा।

(पढ़ना:- प्रेग्नेंट बहू आलिया भट्ट ने सास नीतू कपूर पर लिखा ये पोस्ट वायरल, पढ़कर पढ़ेगा 440 वोल्ट का झटका..!)

इसे एक विशेष भर दें

अपने क्रोधी साथी को अपना रोमांटिक पक्ष दिखाएं और उन्हें विशेष महसूस कराएं। अपने रिश्ते को मजबूत करने की कोशिश करें।

(पढ़ना:- कौन सी लड़कियां सोचकर शादी करती हैं? अगर आपके मन में ये सवाल है तो इसे पढ़ें)

ध्यान से

प्यार भरे रिश्ते में जितना भरोसा और सम्मान जरूरी है, उतना ही वक्त भी जरूरी है। लेकिन अक्सर कपल्स एक-दूसरे को स्पेस नहीं दे पाते क्योंकि वे अपने पार्टनर पर पूरा भरोसा नहीं कर पाते। लेकिन यह आपके रिश्ते की नींव है, आपको अपने साथी पर भरोसा करना होगा।

(पढ़ना:- अक्षय कुमार : भले ही लाखों लड़कियां एक लड़की से प्यार करती हों, लेकिन अक्षय कुमार ने खोला अपनी 21 साल की उम्र का दिलचस्प राज..!)

उपहार देते रहो

पार्टनर को गुस्सा आने पर उपहार दें। उपहार देने का कोई निश्चित समय नहीं है। इसलिए जब भी आपका मन करे आप उन्हें सरप्राइज गिफ्ट दे सकते हैं। सरप्राइज देने से पार्टनर का गुस्सा कम होगा।

(पढ़ना:- रिलेशनशिप टिप: ये 5 संकेत बताते हैं कि आपका रिश्ता खत्म हो रहा है, आज सावधान हो जाएं)

.

<a href

Today Healthtips ! Today Lifestyles ! Today news ! Health foods ! Healthy diet ! Health news !healthcare ! In Hindi.

एक मजबूत भाई-बहन के बंधन के लिए टिप्स: सैफ अली खान हमेशा अपने परिवार के लिए आदर्श व्यक्ति रहे हैं। वहीं अगर उनके बच्चों की बात करें तो सारा अली खान, इब्राहिम (इब्राहिम अली खान), तैमूर (तैमूर अली खान) और जेह बेबी अक्सर छुट्टियों और त्योहारों पर एक साथ नजर आते हैं.

कभी सारा अली खान अपने छोटे भाई को खाना खिलाती नजर आती हैं तो कभी उनके साथ खेलती और पेंटिंग करती नजर आती हैं. वहीं सैफ अली खान इन सभी को साथ में टाइम देते नजर आ रहे हैं. यह एक तरीका है जो आपके बच्चों के बीच के बंधन को मजबूत करने में मदद कर सकता है। और यह बात हर माता-पिता को सैफ अली खान से सीखनी चाहिए। तो आइए जानते हैं ऐसे 5 टिप्स जो बच्चों के बीच की बॉन्डिंग को मजबूत करेंगे। (saraalikhan95 इंस्टाग्राम / टाइम्स ऑफ इंडिया)

भाई-बहनों से एक-दूसरे की मदद करने को कहें

भाई-बहनों के बीच बहस होना काफी आम है। ऐसे में माता-पिता के लिए जरूरी है कि वे हमेशा कुछ ऐसा ही करें। जिससे उनके प्यार में इजाफा होगा। इसके लिए माता-पिता को एक-दूसरे को मदद करना और चीजों को साझा करना सिखाना चाहिए। वे अपने बच्चों से कहते हैं कि भविष्य में जब कोई आपकी मदद नहीं करेगा, तो आपके भाई-बहन शायद आपकी मदद करेंगे।

(पढ़ें- भारती सिंह बेबी: भारती सिंह के बेटे की क्यूट फोटो, नाम इतना प्रभावशाली है कि अविश्वसनीय है))

भाई-बहनों को कठिन परिस्थितियों में एक-दूसरे का समर्थन करने के लिए कहें

मुश्किल समय में साथ मिलना आपके दिमाग को मजबूत कर सकता है। लेकिन जब हम अपने भाइयों और बहनों के साथ ऐसा ही करते हैं, तो इससे हमारा रिश्ता भी मजबूत होता है। ऐसे में माता-पिता को अपने रिश्ते को मजबूत करने के लिए कुछ कठिन कार्यों को एक साथ करने के लिए कहा जाना चाहिए। उनका प्यार तब बढ़ता है जब वे एक साथ समस्याओं का समाधान ढूंढते हैं।

(पढ़ें- मलिंगा: श्रीलंका के महान गेंदबाज मलिंगा के बेटे का अनोखा और प्यारा नाम सुनते ही आपको हो जाता है प्यार, क्रिकेट फैंस भी करते हैं तारीफ..!))

भाई-बहनों को एक साथ छुट्टी पर भेजें

यात्रा सभी को कुछ न कुछ सिखाती है। ऐसे में बच्चों को एक साथ बाहर भेजें। ताकि वे एक दूसरे से अलग महसूस कर सकें। जब वे फिर से मिलते हैं तो वे एक-दूसरे की अधिक सराहना भी करते हैं। इस बारे में सोचने का एक तरीका है, जबकि दूसरा तरीका यह है कि आप अपने बच्चों को एक साथ छुट्टियां मनाने के लिए बाहर भेजें ताकि वे वहां एक साथ समय बिता सकें।

(पढ़ें- खेलते-खेलते किसी बच्चे ने निगल लिया सिक्का? बिना सर्जरी के इन 5 आइडिया से पाएं छुटकारा))

बहस होने पर भी एक-दूसरे को माफी मांगना सिखाएं

अगर आपके बच्चे हैं तो झगड़े आम हैं। उस स्थिति में, अपने बच्चों को एक-दूसरे का सम्मान करने के लिए कहें, चाहे वे कितना भी बहस करें। सही शब्दों का प्रयोग करें और गुस्सा आने पर शांत रहें। साथ ही अपने बच्चों को सॉरी बोलना भी सिखाएं ताकि वो एक-दूसरे से सॉरी बोलकर चीजों को सुलझा सकें।

(पढ़ें- गर्भावस्था के शुरुआती लक्षण: मासिक धर्म से पहले मिलती है गर्भावस्था की जानकारी, ये लक्षण देंगे ‘खुशखबरी’))

परिवार का समय निर्धारित करें

परिवार के लिए समय निकालें। इसका मतलब है कि अगर दिन में सभी लोग काम पर हों तो एक साथ डिनर करें। या बिस्तर पर जाने से पहले कुछ समय एक साथ बिताएं। छुट्टी पर बाहर जाएं और एक छोटी सी पार्टी करें। जिसमें आपका सिर्फ परिवार होगा। इस तरह आप अपने बच्चों के बीच के बंधन को मजबूत कर सकते हैं।

(पढ़ें- डंका भारत में शीर्ष नाम निभा रही है, यहां तक ​​कि संयुक्त राज्य अमेरिका में भी। क्या यह इन नामों में अद्वितीय और विशेष है?)

.

<a href

Enable Notifications    OK No thanks